अपडेट रहें!

हर समय आपके लिए एक से एक ऑफर्स और डील बनाने में हम जुटे रहते हैं। जिन्हे सीधे आपकी डिवाईस पर वेबसाईट नोटिफिकेशन के रूप मे भेजते रहते हैं।

आपको केवल "अलाव" पर क्लिक करना है।

प्रधान मंत्री आवास योजना (पीएमएवाई)

प्रधान मंत्री आवास योजना (पीएमएवाई) क्या है?

पीएमएवाई एक गवर्नमेंट बैक्ड क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम (सीएलएसएस) है, जिसका उद्देश्य वर्ष 2022. तक सभी के लिए किफायती घर उपलब्ध कराना है मूलरूप से आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (ईडबल्यएस) और कम आय समूह (एलआईजी) के लिए घर उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध, इस स्कीम का विस्तार 1 जनवरी, 2017, को मध्य आय समूह (एमआईजी) के लोगों के लिए भी किया गया था।

पीएमएवाई की विशेषताएं/फायदे और उद्देश्य

पीएमएवाई स्कीम की विशेषताएं या लाभ निम्नलिखित हैं –

  • सब्सिडी के लाभ

शायद पीएमएवाई स्कीम का एक सबसे महत्वपूर्ण फायदा प्रधानमंत्री आवास योजना सब्सिडी है जिसमें 2.67 लाख रूपए तक की सब्सिडी मिल सकती है। पीएमएवाई की पात्रता को पूरा करने वाले व्यक्ति अपनी स्थिति के हिसाब से साझेदारी में मिलने वाले किफायती आवास लोन, सबसिडी वाला व्यक्तिगत गृह निर्माण या पुराने घर को बेहतर बनाने और झुग्गी में रहने वाले लोगों के लिए पुनर्वास लोन का आनंद ले सकते हैं।

  • लोन की विस्तारित अवधि

पीएमएवाई के अंतर्गत लाभार्थियों को 20 वर्षों तक की अवधि विस्तारित के लिए लोन मिलता है। परिणामस्वरूप, लाभार्थी कम अदायगी वाली किस्तों का आनंद ले सकते हैं।

  • लोन की कोई सीमा नहीं।

पीएमएवाई स्कीम में लोन के रूप में ली जाने वाली धनराशि पर कोई सीमा तय नहीं की गई है। इसलिए, लाभार्थी अपनी जरूरत के मुताबिक आवास लोन ले सकते हैं, बशर्ते कि वे अपनी समय सीमा के अंत तक इसकी अदायगी करने में सक्षम हो सकें।

  • अतिरिक्त लोन का विकल्प

ऐसे लाभार्थी जिन्हें पीएमएवाई के अंतर्गत प्रस्तावित लोन से अधिक के आवासीय लोन की जरूरत है, वे अतिरिक्त लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं। यहां ध्यान देने वाली सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि इस तरह के लोन गैर-सबसिडी वाले ब्याज दर पर दिए जाएंगे और उधारकर्ता से सामान्य प्रोसेसिंग शुल्क लिया जाएगा।

  • महिलाओं और अल्पसंख्यकों के लिए फायदे

ईडब्ल्यूएस और एलआईजी श्रेणियों के अंतर्गत अनिवार्य उपनियम और एमआईजी I और एमआईजी II श्रेणियों के अंतर्गत वैकल्पिक उपनियम के मुताबिक पीएमएवाई स्कीम के अंतर्गत संपत्ति की मालकिन या सह-मालकिन महिला को बनाया जाता है। हालांकि, वरीयता प्रावधान वैतनिक महिला, विधवा, किन्नर, दिव्यांग और वरिष्ठ नागरिकों के लिए उपलब्ध हैं। उदाहरण के लिए - अगर कोई वरिष्ठ नागरिक इस स्कीम के अंतर्गत आवेदन करते हैं, तो उन्हें ग्राउंड फ्लोर एकोमोडेशन के लिए आश्वस्त किया जा सकता है।

  • पर्यावरण के अनुकूल निर्माण

पीएमएवाई स्कीम के अंतर्गत घरों के निर्माण पर्यावरण के अनुकूल संरचना तकनीक और सामग्रियों के इस्तेमाल से किए जाते हैं। इससे पर्यावरणीय प्रदूषण कम होगा और निर्माण स्थल पर और इसके चारों ओर कम से कम क्षति सुनिश्चित होगी।

प्रधान मंत्री आवास योजना - शहरी (पीएमएवाई-यू)

2015, प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) या पीएमएवाई (यू) केंद्र सरकार द्वारा संचालित एक योजना है, जिसका उद्देश्य 2015 से 2022. तक के भीतर स्थित शहरी क्षेत्रों में सभी आयु समूहों के लिए किफायती घर उपलब्ध कराना है

पीएमएवाई-यू के बारे में यहां कुछ महत्वपूर्ण तथ्य हैं –

  • स्वीकृत घरों की संख्या – 88 लाख

  • निर्मित घरों की संख्या – 26 लाख

  • दखल किए गए घरों की संख्या – 24 लाख

  • कुल निवेश – रू. 5.20 लाख करोड़

  • केंद्र द्वारा स्वीकृत सहयोग – रू. 1.37 लाख करोड़

  • केंद्र द्वारा उपलब्ध कराया गया सहयोग – रू. 52,000 लाख करोड़ से अधिक

प्रधान मंत्री आवास योजना - ग्रामीण (पीएमएवाई-जी)

प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) या पीएमएवाई (जी) केंद्र सरकार शुरू किया गया सामुदायिक कल्याण योजना है जिसका उद्देश्य वर्ष 2022. तक भारत के ग्रामीण क्षेत्रों में ‘कच्चे’ झोपड़ियों में रहने वाले लोगों को बुनियादी सुविधाओं के साथ पक्का घर उपलब्ध करवाना है

पीएमएवाई-जी के बारे में यहां कुछ महत्वपूर्ण तथ्य हैं –

  • स्वीकृत घरों की संख्या – 1.23 करोड़

  • पूर्ण किए गए घरों की संख्या – 84 लाख

  • केंद्र द्वारा उपलब्ध कराया गया सहयोग – रू. 8 लाख करोड़

  • राज्य द्वारा उपलब्ध कराया गया सहयोग – रू. 15 लाख करोड़

पीएमएवाई सब्सिडी क्या है?

पीएमएवाई स्कीम अपने लाभार्थियों को सब्सिडी देती है, जहां प्रधानमंत्री आवास योजना का ब्याज दर सब्सिडी पर या नियमित आवासीय लोन से घटे हुए ब्याज दर पर तय होता है। इसे इसलिए संभव बनाया गया है ताकि सभी लोगों को सस्ते दर पर घर मिल सके।

आइए इसे एक उदाहरण की सहायता से समझते हैं – 6 लाख रूपए की अधिकतम लोन राशि 20 वर्षों की अवधि के लिए 9% के मूल ब्याज दर पर दी जाती है एलआईजी श्रेणी से संबंधित लाभार्थी को 6.5%. के सब्सिडी वाले दर पर लोन मिलेगा यहां ईएमआई की राशि में कुल कमी रू. 2405 होगी

अधिक विस्तार से जानें: इसके बारे में सबकुछ जानें पीएमएवाई सब्सिडी योजना

पीएमएवाई के पात्र कौन हैं?

प्रधानमंत्री आवास योजना उपलब्ध कराने के मूल पात्रता मानदंड निम्नलिखित है –

  • लाभार्थी का वार्षिक घर का आय निम्नलिखित आय के चार श्रेणियों में से कोई एक श्रेणी होनी चाहिए

  • लाभार्थी के परिवार के पास अपना खुद का पक्का घर अपने खुद के नाम से या भारत के किसी भी भाग में किसी अन्य परिवार के सदस्य के नाम से नहीं होना चाहिए

  • लाभार्थी के परिवार द्वारा किसी भी आवासीय योजना के अंतर्गत भारत सरकार से केंद्रिय सहयोग के किसी भी रूप में या पीएमएवाई स्कीम के अंतर्गत किसी भी प्रकार का लाभ नहीं उठाना चाहिए।

  • विवाहित जोड़े की स्थिति में, दोनों या दोनों में से किसी एक व्यक्ति द्वारा एक ही पीएमएवाई सब्सिडी का लाभ उठाया जा सकता है, बशर्ते कि वे आय की पात्रता को पूरा करते हों।

 

अपनी पीएमएवाई पात्रता अभी जांचें!

पीएमएवाई के लिए आवश्यक दस्तावेज क्या हैं?

नियमित लोन आवेदन से संबंधित दस्तावेजों के अलावा, प्रधानमंत्री आवास योजना सब्सिडी उपलब्ध कराने के लिए निम्नलिखित अतिरिक्त दस्तावेज जमा किया जाना चाहिए –

  • शपथ सह घोषणा जिसमें यह साबित किया गया है कि लाभार्थी के परिवार के पास खुद कोई पक्का घर नहीं है

  • वार्षिक घरेलू आय – स्व-सत्यापित आय प्रमाणपत्र, वेतन पर्ची

  • निर्माण के अंतर्गत संपत्ति की घोषणा, यदि लागू हो – डेवलपर या बिल्डर के साथ कंस्ट्रक्शन एग्रीमेंट, उस संपत्ति के लिए मूल्यांकन प्रमाणपत्र जिसे आप खरीदना चाहते हैं, उस संपत्ति के अग्रिम भुगतान की रसीद जिसे आप खरीदना चाहते हैं

  • पहचान प्रमाण – आधार कार्ड/पैन कार्ड/ड्राइविंग लाइसेंस/मतदाता का पहचान पत्र

  • पता प्रमाण की प्रति

  • सक्षम अधिकारी या किसी हाउसिंग सोसाइटी से प्राप्त एनओसी

पीएमएवाई कैलकुलेटर क्या है?

प्रधानमंत्री आवास योजना कैलकुलेटर पीएमएवाई कैलकुलेटर एक आसान ऑनलाइन टूल है जिसके इस्तेमाल से आप अपने पीएमएवाई सब्सिडी राशि की गणना कर सकते हैं और उस श्रेणी के बारे में जान सकते हैं जिसके अंतर्गत आप पीएमएवाई स्कीम के पात्र हैं। 

पीएमएवाई में केवल अपना वार्षिक पारिवारिक आय, लोन की अवधि और लोन की राशि दर्ज करके, आप कुछ ही सेकंड में जान सकते हैं कि आप पीएमएवाई सब्सिडी के पात्र हैं या नहीं।

पीएमएवाई के अंतर्गत कौन रजिस्टर कर सकता है?

  • झुग्गी में रहने वाले लोग – ऐसे लोग जो पीने का पानी, उचित इंफ्रास्ट्रक्चर और स्वच्छता की कमी जैसे बिना किसी बुनियादी सुविधाओं के बहुत की अधिक खराब जगह पर रहते हैं, वे इस श्रेणी के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं 
  • अन्य तीन घटक – ईडब्ल्यूएस (आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग), एलआईजी (कम आय वाले समूह), और एमआईजी (मध्यम आय वाले समूह) इस श्रेणी के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं

पीएमएवाई के अंतर्गत रजिस्टर करने के चरण

पीएमएवाई स्कीम के अंतर्गत रजिस्टर करने के लिए, निम्नलिखित चरणों का पालन करें –

  • चरण 1 – पीएमएवाई की आधिकारिक वेबसाइट पर लॉग ऑन करें 

  • चरण 2 – ड्रॉप बॉक्स से ‘नागरिक आकलन’ पर क्लिक करके ‘अन्य 3 घटकों के अंतर्गत लाभ’ विकल्प का चयन करें 

  • चरण 3 – अपना आधार नंबर दर्ज करें और ‘सबमिट’ पर क्लिक करें

  • चरण 4 – साइट आपके आधार विवरण को सत्यापित करेगी और अगर ये सही पाए जाते हैं, तो आपको अगले पेज पर डायरेक्ट किया जाएगा जहां आपको आपका नाम, आय, पता, संपर्क नंबर, धर्म, जाति और पसंद जैसे जानकारी देनी होगी 

  • चरण 5 – पूरी जानकारी दर्ज करने के बाद, इस पेज के नीचे दिए गए बॉक्स में कैप्चा कोड टाइप करें और ‘सबमिट’ पर क्लिक करें

अपने आवेदन और आधार नंबर की सहायता से आप अपने विवरण को बाद में जांच या संपादित कर सकते हैं।

आम सवाल

आवास और शहरी गरीबी उन्मूलन मंत्रालय ने जून 2015. में प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के अंतर्गत एक क्रेडिट लिंग सब्सिडी स्कीम (सीएलएसएस) शुरू किया है

पीएमएवाई सब्सिडी स्कीम की शुरूआत इस उद्देश्य से की गई है कि 2022 तक आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (ईडब्ल्यूएस), कम आय समूह (एलआईजी), मध्य आय समूह I (एमआईजी I) और मध्य आय समूह II (एमआईजी II) के सभी पात्र लाभार्थियों को घर उपलब्ध कराया जा सके। 

उन लोगों के लिए जो PMAY के योग्य हैं लेकिन सोच रहे हैं कि ऑनलाइन PMAY के लिए कैसे आवेदन करें - यहां क्रमशः मार्गदर्शिका दी गई है -

· अपनी पीएमएवाई लाभार्थी श्रेणी को पहचानें

·         सरकार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं – https://pmaymis.gov.in/

· ‘नागरिक आकलन’ का चयन करें और फिर आवेदक की प्रासंगिक श्रेणी चुनें

· पीएमएवाई आवेदन पत्र ऑनलाइन भरें

· कैप्चा कोड दर्ज करें, अपने विवरण दोबारा जांच कर लें और ‘सबमिट’ पर क्लिक करें।

लाभार्थी के परिवार में पति, पत्नी और अविवाहित बच्चे शामिल होते हैं।

(अपने वैवाहिक स्थिति के विपरीत कमाने वाले सदस्य को एमआईजी की श्रेणी में एक अलग घर के रूप में समझा जा सकता है और उसे पीएमएवाई पात्रता मानदंड) के अंतर्गत विचार किया जाएगा। 

सोच रहे हैं कि प्रधानमंत्री आवास योजना की स्थिति की जांच कैसे करें? आप निम्न चरणों में ऑनलाइन अपनी PMAY स्थिति जांच सकते हैं -

· सरकार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं –

· ‘नागरिक आकलन’ पर क्लिक करें और उसके अंतर्गत, ‘अपना आकलन ट्रैक करें’ पर क्लिक करें।

आपके आवेदन की स्थिति प्रदर्शित होगी।

पीएमएवाई लोन के अधिकतम मूलधन की ऐसी कोई ऊपरी सीमा नहीं तय नहीं है; हालांकि, पीएमएवाई सब्सिडी केवल अधिकतम 12 लाख रूपए तक के लिए ही उपलब्ध है। आप ऑनलाइन पीएमएवाई कैलकुलेटर का इस्तेमाल करके अपनी पीएमएवाई राशि के बारे में पता लगा सकते हैं।

नहीं, जो मौजूदा होम लोन के लिए पीएमएवाई का लाभ लेने की सोच रहे हैं, वो स्कीम के लिए योग्य नहीं है। ऐसा इसलिए क्योंकि होम लोन के लिए पीएमएवाई की मूल योग्यता है कि आवेदक या उनके परिवार में से किसी का भी भारत में कहीं में उनके नाम से 'पक्का' घर नहीं होना चाहिए।

पीएमएवाई स्कीम पहली बार घर का मालिक बनने के लिए उपलब्ध है।

हां, संपत्ति का मालिक होना अनिवार्य है, लेकिन यह सभी श्रेणियों के लाभार्थी के लिए नहीं है। यह केवल ईडब्ल्यूएस और एलआईजी श्रेणियों के लिए ही अनिवार्य है, लेकिन दो एमआईजी श्रेणियों के लिए अनिवार्य नहीं है।

हां, आयकर अधिनियम 1961. के खंड 80सी और खंड 24( बी) के अनुसार लाभार्थियों के लिए PMAY स्कीम पर कर अपवाद उपलब्ध है। आवेदक निम्न PMAY कर लाभों के लिए योग्य है -

· होम लोन की मूल बकाया राशि पर अधिकतम रू. 1.5 लाख प्रति वर्ष की अधिकतम कटौती

· होम लोन के ब्याज की राशि पर अधिकतम रू. 2 लाख प्रति वर्ष की अधिकतम कटौती