अपडेट रहें!

हर समय आपके लिए एक से एक ऑफर्स और डील बनाने में हम जुटे रहते हैं। जिन्हे सीधे आपकी डिवाईस पर वेबसाईट नोटिफिकेशन के रूप मे भेजते रहते हैं।

आपको केवल "अलाव" पर क्लिक करना है।

पीएमएवाई पात्रता और दस्तावेजीकरण

पीएमएवाई के लिए पात्रता

प्रधानमंत्री आवास योजना उपलब्ध कराने के लिए, किसी भी व्यक्ति को पात्रता के निम्नलिखित मानदंडों को अवश्य पूरा करना चाहिए –

  • आय

लाभार्थी का वार्षिक घरेलू आय नीचे दिए गए टेबल में उल्लिखित विभिन्न श्रेणियों के लिए निर्धारित मानदंड पूरा होना चाहिए। कोई व्यक्ति पीएमएवाई सब्सिडी स्कीम का लाभ उठाने का पात्र है बशर्ते वे इन चार श्रेणियों में से किसी भी एक श्रेणी से हों – आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग या ईडब्ल्यूएस, कम आय वाला समूह या एलआईजी, मध्यम आय वाला समूह I या एमआईजी I, और मध्यम आय वाला समूह II या एमआईजी II।

  • पहले से कोई स्वामित्व नहीं

लाभार्थी या लाभार्थी के परिवार के किसी भी अन्य सदस्य का पक्का घर भारत के किसी भी भाग में नहीं होना चाहिए।

 

  • कोई केंद्रीय सहायता नहीं

लाभार्थी या लाभार्थी के परिवार के किसी अन्य सदस्य को सीएलएसएस स्कीम के अंतर्गत सब्सिडी उपलब्ध नहीं होना चाहिए।

 

  • अनिवार्य महिला स्वामित्व या सह स्वामित्व

कर्ज लेने वाले परिवार में संपत्ति की मालकिन या सह-मालकिन के रूप में कम से कम एक महिला सदस्य को अवश्य शामिल किया जाना चाहिए (केवल ईडब्ल्यूएस और एलआईजी श्रेणियों के लिए ही लागू है)

  • कार्पेट एरिया

संपत्ति का कार्पेट एरिया विभिन्न श्रेणियों के लिए निर्धारित सीमा के भीतर होना चाहिए, जैसा कि नीचे दिए गए टेबल में बताया गया है।

 

प्रधानमंत्री आवास योजना की पात्रता श्रेणी के आधार पर भिन्न होगी, जैसा कि नीचे बताया गया है –

 

श्रेणी; वार्षिक घरेलू आय (रूपए में) कार्पेट एरिया (वर्ग मीटर में) महिला स्वामित्व या सह स्वामित्व
ईडब्ल्यूएस 3 लाख तक 30 वर्ग मीटर से अधिक नहीं होना चाहिए अनिवार्य
एलआईजी 3 लाख – 6 लाख 60 वर्ग मीटर से अधिक नहीं होना चाहिए अनिवार्य
MIG I 6 लाख – 12 लाख 160 वर्ग मीटर से अधिक नहीं होना चाहिए वैकल्पिक
MIG II 12 लाख – 18 लाख 200 वर्ग मीटर से अधिक नहीं होना चाहिए वैकल्पिक

पीएमएवाई के लिए जरूरी दस्तावेज

प्रधानमंत्री आवास योजना उपलब्ध कराने के लिए, निम्नलिखित दस्तावेज जरूरी हैं –

  • आयु प्रमाण दस्तावेज – आपके पासपोर्ट/ड्राइविंग लाइसेंस/लाइफ इंश्यूरेंस पॉलिसी/जन्म प्रमाणपत्र/पैन कार्ड/विद्यालय परित्याग प्रमाणपत्र
  • शपथ सह घोषणा जिसमें यह साबित किया गया है कि लाभार्थी के परिवार के पास खुद कोई पक्का घर नहीं है
  • निर्माण के अंतर्गत संपत्ति की घोषणा, यदि लागू हो – डेवलपर या बिल्डर के साथ कंस्ट्रक्शन एग्रीमेंट, उस संपत्ति के लिए मूल्यांकन प्रमाणपत्र जिसे आप खरीदना चाहते हैं, उस संपत्ति के अग्रिम भुगतान की रसीद जिसे आप खरीदना चाहते हैं
  • पहचान प्रमाण दस्तावेज – आधार कार्ड/पैन कार्ड/ड्राइविंग लाइसेंस/मतदाता का पहचान पत्र
  • पता प्रमाण की प्रति - बैंक स्टेटमेंट/संपत्ति के पंजीकरण से संबंधित दस्तावेज/संपत्ति कर की रसीद/मतदाता पहचान
  • वेतन प्रमाण दस्तावेज (घर के प्रत्येक कमाने वाले सदस्य के लिए) - पिछले तीन महीने की वेतन पर्ची की प्रति/नियुक्ति पत्र/वार्षिक वृद्धि पत्र/फॉर्म 16 की प्रमाणित मूल प्रति
  • आय प्रमाण दस्तावेज – आपके सैलरी अकाउंट के पिछले छः महीने का बैंक स्टेटमेंट की प्रति
  • मौजूदा लोन का विवरण – बैंक स्टेटमेंट के माध्यम से दिया जाना चाहिए
  • प्रोसेसिंग शुल्क का चेक – वेतनधारी ग्राहकों के लिए सैलरी अकाउंट या स्व-नियोजित ग्राहकों के लिए बिजनेस अकाउंट से जारी किया जाना चाहिए
  • सक्षम अधिकारी या किसी हाउसिंग सोसाइटी से प्राप्त एनओसी
FAQ

आवेदक को इस योजना का लाभ उठाने के लिए पीएमएवाई पात्रता को अवश्य पूरा करना चाहिए। प्रधानमंत्री आवास योजना की पात्रता का मानदंड निम्नलिखित है –

आवेदक या उसके घर के किसी अन्य परिवार के सदस्य के नाम पर भारत में किसी भी स्थान पर ‘पक्का’ घर नहीं होना चाहिए

आवेदक के वार्षिक घर की आय लाभार्थी के चार श्रेणियों में से किसी भी श्रेणी के भीतर आना चाहिए

· आवेदक या परिवार के किसी अन्य सदस्य को किसी भी हाउसिंग स्कीम के अंतर्गत केंद्रीय सहयोग उपलब्ध नहीं कराना चाहिए

· चुनी गई संपत्ति का कार्पेट एरिया आवेदक की संबंधित श्रेणी के लिए निर्धारित विशिष्टताएं प्राप्त होनी चाहिए

प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत लाभार्थी की विभिन्न श्रेणियां निम्नलिखित हैं –

· आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (ईडब्ल्यूएस) – 6.5% के दर पर ब्याज सब्सिडी अधिकमत लोन की राशि 6 लाख रूपए तक है

· कम आय वाले समूह (एलआईजी) – 6.5% के दर पर ब्याज सब्सिडी अधिकतम लोन की राशि 6 लाख रूपए तक है

· मध्य आय वाले समूह I (एमआईजी I) – 4% के दर पर ब्याज सब्सिडी अधिकतम लोन की राशि 9 लाख रूपए तक है

· मध्य आय वाले समूह II (एमआईजी II) – 3% के दर पर ब्याज सब्सिडी अधिकतम लोन की राशि 12 लाख रूपए तक है

हां, एनआरआई पीएमएवाई सब्सिडी का लाभ उठाने के हकदार हैं बशर्ते कि वे सरकार द्वारा निर्धारित पीएमएवाई पात्रता के सभी मानदंडों को पूरा करते हैं। 

प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए निम्न दस्तावेज़ों की आवश्यकता है -

आयु प्रमाण दस्तावेज

शपथ पत्र या स्व-घोषणा पत्र, जिसमें यह साबित किया गया है कि आवेदक या उसके परिवार के पास इस देश में खुद का ‘पक्का’ घर नहीं है

· निर्माणाधीन संपत्ति की स्थिति में, घोषणा समान रहेगी

· पहचान प्रमाण दस्तावेज

· पता प्रमाण दस्तावेजों की प्रति

· वेतन प्रमाण दस्तावेज

- आय प्रमाण के दस्तावेज़

· मौजूदा लोन का विवरण

· प्रोसेसिंग शुल्क का चेक

किसी हाउसिंग सोसाइटी के किसी संबंधित अधिकारी से प्राप्त एनओसी

हां, पीएमएवाई के लिए आधार कार्ड का विवरण अनिवार्य है। पीएमएवाई स्कीम का लाभ पाने के लिए इच्छुक सभी आवेदकों को लोन अनुबंध में अपने आधार कार्ड का विवरण अवश्य प्रस्तुत करना चाहिए। अगर कोई आवेदक या सह-आवेदक विवाहित हो, तो उसके साथी का आधार का विवरण भी अनिवार्य है।

पीएमएवाई स्व घोषणा फ़ॉर्म या एफ़िडेविट एक फ़ॉर्म है जो एक प्रमाण के तौर पर काम करता है कि आवेदक योजना का लाभ लेने के लिए सभी योग्यता मापदंडों को पूरा करता है। प्रधानमंत्री आवास योजना स्व घोषणा फ़ॉर्म पुष्टि करता है कि किसी आवेदक या उनके परिवार के किसी भी सदस्य के पास देश में कोई 'पक्का' घर नहीं है और उन्होंने किसी भी हाउसिंग योजना के तहत कोई केंद्रीय सहायता प्राप्त नहीं की है।

नहीं, पीएमएवाई (शहरी) लाभ को केवल उन कस्बों/गांवों/शहरों तक ही विस्तारित किया जा सकता है जो जनगणना 2011 के अनुसार सांविधिक सूची पर प्रदर्शित होते हैं और बाद में एनएचबी द्वारा दिए गए योजित क्षेत्र सहित अधिसूचित शहरों की सूची में प्रदर्शित होते हैं।

चूंकि कोई भी आवासीय संपत्ति नहीं है, इसलिए पीएमएवाई का लाभ आय और संपत्ति क्षेत्र मानदंड को पूरा करके लाभार्थी परिवार द्वारा उठाया जा सकता है।

नहीं, आप ऐसी स्थिति में पीएमएवाई योजना का लाभ नहीं ले पाएंगे। ऐसा इसलिए क्योंकि पीएमएवाई योग्यता मापदंड में से एक है कि आवेदक या उनके परिवार में से किसी का भी देश में कहीं भी 'पक्का घर' नहीं होना चाहिए।